1 रूपए 18 पैसे में कुपोषण दूर करना चाहती है छत्तीसगढ़ सरकार

1 रूपए 18 पैसे में कुपोषण दूर करना चाहती है छत्तीसगढ़ सरकार

एक तरफ जहाँ कुपोषण से आर-पार की लड़ाई की बात चल रही है वहीं छत्तीसगढ़ में नवाजतन योजना के तहत कुपोषण से निबटने के लिए राज्य सरकार ने हास्यास्पद रकम आबंटित किए हैं Continue reading 1 रूपए 18 पैसे में कुपोषण दूर करना चाहती है छत्तीसगढ़ सरकार

आखिर क्यों ‘चावल वाले बाबा’ को ‘दारू वाले बाबा’ बनना पड़ रहा है?

आखिर क्यों ‘चावल वाले बाबा’ को ‘दारू वाले बाबा’ बनना पड़ रहा है?

यह इतना आसान नहीं है कि कोई अपने चावल वाले बाबा जैसे सकारात्मक इमेज के उलट दारू वाले बाबा के तौर पर पहचाने जाएं.हाँलाकि एक बारगी तो यही लगता है कि इसकी वज़ह मोटा राजस्व है लेकिन राज्य में शराब से होने वाली मौतों और अपराध के बरक्स यह राजस्व जनता के लिए महत्वहीन है मगर इस पर चावल वाले बाबा का यह अध्यादेश किसी शराबी के फैसले से कम नहीं है.

Continue reading आखिर क्यों ‘चावल वाले बाबा’ को ‘दारू वाले बाबा’ बनना पड़ रहा है?

बस्तर के ‘ढोलकल’ से  वायरल हो रही है एक अपील,जानिए क्यों?

बस्तर के ‘ढोलकल’ से वायरल हो रही है एक अपील,जानिए क्यों?

इस अपील में लिखा है कि ‘’ढोलकल – बस्तर के इतिहास की योजनाबद्ध हत्या हो रही है…जानिए क्यों ऐसा लिखा गया है? Continue reading बस्तर के ‘ढोलकल’ से वायरल हो रही है एक अपील,जानिए क्यों?

अब छत्तीसगढ़ सरकार खुद उतरेगी ‘शराब के धंधे’ में

अब छत्तीसगढ़ सरकार खुद उतरेगी ‘शराब के धंधे’ में

एक तरफ जहाँ बिहार में शराब-बंदी को लेकर बिहार सरकार सख़्त रूख अपनाई हुई है वहीं छत्तीसगढ़ सरकार ने जनता के द्वारा शराब-बंदी की मांग को खारिज़ करते हुए खुद शराब बेचने का निर्णय लिया है. Continue reading अब छत्तीसगढ़ सरकार खुद उतरेगी ‘शराब के धंधे’ में

छत्तीसगढ़ और ओड़िशा में यूरेनियम की खोज

छत्तीसगढ़ और ओड़िशा में यूरेनियम की खोज

छत्तीसगढ़ और ओड़िसा राज्य आज भी अबूझ पहेली की तरह है जिसके बारे में लोगों को कुछ ज्यादा जानकारी नहीं होती. Continue reading छत्तीसगढ़ और ओड़िशा में यूरेनियम की खोज

छत्तीसगढ़ के जनधन खातों में क्यों नहीं है धन?

छत्तीसगढ़ के जनधन खातों में क्यों नहीं है धन?

प्रधानमंत्री जन धन योजना की वेबसाइट पर जारी आंकड़ो के अनुसार 30 नवंबर तक छत्तीसगढ़ में जनधन खातो की संख्या 1 करोड़ 19 लाख 14 हज़ार 626 है लेकिन इनमें से 39 लाख 32 हजार 844 खातों में एक भी पैसा नहीं है। Continue reading छत्तीसगढ़ के जनधन खातों में क्यों नहीं है धन?